वासना भरी भाभी की चूत की चुदाई

उसने कहा- ठीक है, मैं ही उतार देती हूँ.
उसने मेरा टी-शर्ट, पैंट और अंडरवियर सब निकाल दिया. अब मैं पूरा नंगा हो गया था. मैंने भी उसकी नाइटी और पैंटी उतार दी.

अब मैं उसे सोफे पर लेटा कर उसके बूब्स चूसने लगा था. बहुत ही मस्त बूब्स थे उसके. मैंने आइसक्रीम उठाकर उसके बूब्स पर लगा दी और उसको चाटने लगा. फिर उसकी पूरी बॉडी पर लगा दी और चाटने लगा. उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था. वह मदहोश हो रही थी. फिर मैंने उसको सोफे पर बैठा दिया और उसकी दोनों टांगें फैला कर उसकी चूत को चाटने लगा अपनी जीभ से. उसकी चूत गुलाबी थी.

वह मस्ती में होकर स्स्स्…आह्ह्ह्…करने लगी थी.
मैंने कहा- थोड़ा धीरे बोल ना जान, अगर कोई सुन लेगा तो क्या कहेगा.
उसने कहा- अगर आज पूरा ज़माना भी सुन लेगा तो कोई ग़म नहीं है। प्लीज़ रूतुल … आहह्ह … बहुत मज़ा आ रहा है. आज तक मेरी चूत किसी ने इस तरह नहीं चाटी है. अगर तुम मुझे पहले मिल गए होते तो मुझे अब तक प्यासी नहीं रहना पड़ता। आह्ह्ह … आइ लव यू …
उसने कहा- मेरा पानी निकलने वाला है रूतुल … आहाह …
ऐसा कहते हुए उसकी चूत से पानी निकलने लगा.

अब उसने मुझे सोफे पर बैठा लिया और मेरा लंड चूसने लगी. उम्म्ह… अहह… हय… याह…
मैं उसकी पीठ को सहला रहा था. साथ ही उसके बूब्स को भी दबा रहा था. अब मैंने उठाकर उसको अपनी गोद में बैठा लिया और वह मेरी गोद में बैठ गई। वह मेरे लंड पर बैठ गई और मेरा लंड उसकी चूत में चला गया. वह मेरे लंड के ऊपर बैठकर उछलने लगी. उसकी चूत से पच्च-पच्च की आवाज़ आ रही थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.
उसने कहा- चोदो मुझे!

वह मेरे लंड पर उछलते हुए मुझे किस भी करती जा रही थी. मैं भी उसको किस करता हुआ उसकी चूत में लंड को अंदर-बाहर होने दे रहा था. फिर मैंने उसे खड़ी कर दिया। उसका एक पैर सोफे पर रखा और उसको झुका कर पीछे से उसकी चूत में लंड को डाल दिया.
उसकी चूत में लंड डाल कर मैं उसे चोदने लगा. वह और ज़ोर से आवाज़ें निकालने लगी ‘आह्ह … ओह्ह्ह … कमॉन … आह्ह्ह … फक मी … आह्ह्ह …
मैंने कुछ देर उसको इसी तरह दबाकर चोदा और फिर उससे कहा- मेरा निकलने वाला है.
वह बोली- मुझे तुम्हारी क्रीम को खाने का मन है. तुम मेरे मुंह में अपनी क्रीम निकाल दो.

मैंने खड़ा होकर उसके मुंह में अपना लंड दे दिया. उसके मुंह में जाते ही लंड ने पिचकारी मारी और सारा वीर्य उसके मुंह में जाने लगा. फिर हम दोनों नंगे ही बाथरूम में जाकर नहाने लगे. नहाते हुए मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और मैंने फिर से बाथरूम में उसकी चुदाई कर डाली.

दोस्तो, आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी, मुझे मेल में ज़रूर बताना. आप मेरी कहानी पर कमेंट्स के ज़रिए भी बता सकते हैं कि आपको मेरी कहानी कैसी लगी.

अगर सूरत की कोई फीमेल मुझसे दोस्ती करना चाहती है तो मेरा ई-मेल एड्रेस नीचे दिया हुआ है. फिर मिलेंगे किसी और आपबीती के साथ.

Pages: 1 2 3