बीवी की चुदाई की कहानी

फिर मैने उसको किस करते हुए एक हाथ से उसकी सलवार का नाडा ( पंजाबी लोग सूट और सलवार ही पहनते है) खोल दिया , उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और हंसते हुए कहने लगी की ये क्या कर राहे हो मैने कहा की आपको प्यार ही कर रहा हू …… देन वो कुछ नही बोली, जब मैने उसकी सलवार के अंदर हाथ डाला तो मैने देखा की उसने अंदर पैंटी नही पहनी है ,मैं उसकी पुसी को रब करने लग गया , दोस्तो उस टाइम क्या मज़ा आ रहा था जिसने सेक्स किया हो वही समझ सकता है , फिर मैने फिंगरिंग करना शुरू कर दिया और इस से तो वो बहुत मज़े हो रही थी और मेरा लंड का तो बुरी तरह से तना हुआ था फिर उसने बूब्स चूसने को बोला मैने चूसना शुरू किया तो उसने अपनी आँखे बंद करके अपने हाथ से मेरी शॉर्ट उतारने लगी ,शॉर्ट उतारने के बाद वो अपने हाथ से मेरे लंड को आगे पीछे करने लगी , हम एक दूसरो को किस करते रहे और चूस्ते रहे .

फिर मैं उसको बेड पर सीधा लेटा कर उसके उपर आ गया , जैसे ही मैने अपना लंड उसकी चुत पर रब करना शुरू किया क्या बताउ आपको वो नीचे से इतना गरम हो चुकी थी जैसे उसके नीचे कोई गरम चीज़ रखी हो, फिर मैने उसका एक निप्पल मूह मे ले कर एक हाथ से अपना लंड पकड़ कर उसकी चुत मे डाल दिया , क्या मस्त चुत थी उसकी , बहुत मज़ा आया लंड अंदर डालने मे , धीरे धीरे पूरा का पूरा लंड उसकी चुत मे डाल दिया , अब वो भी गॅंड उठा उठा कर मज़े ले रही थी और मुझे भी मज़े दे रही थी, 12-13 मिनट उसको उपर से चोदने के बाद मैने उसको डॉगी स्टाइल मे उल्टा किया फिर पीछे से लंड उसकी गॅंड पर रब किया बट उसने पीछे डालने से मना कर दिया ,

मैने भी ज़बरदस्ती नही की और चुत मे ही डाल दिया ,एक बात और बताता हू उसका वेट सिर्फ़ 42 केजी है वो भी मुझे उसने खुद बताया था , हमे सेक्स करते करते करीब 18- 20 मिनट हो चुके थे और हम दोनो पसीने से बुरी तरह भीग चुके थे , बूट मुझे उस दिन मुझे पता नही क्या हुआ था मेरा पानी निकलने का नाम ही नही ले रहा था मैने उसको एक बार बेड पर लिटा कर खुद उसके उपर आ कर चोदा फिर उसे डॉगी स्टाइल मे चोदा , उसके बाद उसको बेड के एक कोने मे लिटाया और खुद बेड से नीचे उतर कर खड़ा हो कर उसकी टाँगे अपने कंधे पर रख कर चोदने लगा ,

करीब 25 मिनट बाद भी मेरा नही निकला तो उसने खुद ही बोल दिया की मैं अब बहुत थक चुकी हू अब और मत करो ,मैने भी उसकी बात मान ली और हम दोनो नंगे ही एक दूसरे के साथ सो गये , रात के 1.30 बजे मेरी नींद खुल गई मैं फिर से उसकी ब्रेस्ट को दबाने लगा , फिर वो भी जाग गई तो मैने उसको रिक्वेस्ट किया और मैने उसकी चुत रगड़नी शुरू की, 1 फिंगर उसके अंदर डालनी चालू की,धीरे धीरे उसकी चुत गीली होने लगी और मैने अपना लंड डाल दिया , ठप ठप की आवाज़ बहुत मस्त लग रही थी हम फिर से शुरू हो गये इस बार 15 मिनट मे मेरा निकल गया , जब मेरा निकलेने वाला था तो मैने उसको पूछा की कहाँ निकालु तो उसने कहा की अंदर ही डाल दो , जब मेरा कम निकला तो ऐसा लग रहा था की अपना लंड इसकी चुत से बाहर ही ना निकालु.

ये सिलसिला 1 वीक तक चलता रहा , अब वो रूम चेंज केरके चली गई है.

सो दोस्तो कैसी लगी आपको मेरी ये रियल सेक्स यात्रा,मुझे ज़रूर मैल करना इस आईडी पर [email protected] )

चंडीगढ़, या हाद्राबाद से कोई लेडी या गर्ल ( एज नो मॅटर ) मेरे साथ एंजॉय क्रना चाहती हो फ्री ऑफ कॉस्ट तो मुझे ज़रूर मैल करना , आई एम वेटिंग युवर रेस्पॉन्स… थॅंक्स कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Pages: 1 2