मेरी बुआ की गुलाबी चूत सालों से प्यासी थी

बुआ ने कहा अरे थोड़ा रुक अंकीत

मैंने कहा बुआ अब नहीं रुका जाता आ जाओ और उन्हें चूमना स्टार्ट कर देता हूं और उनके चुचे मसलता हूं और चूत भी और फिर उन्हें बेड पर लेटा कर बिल्कुल नंगा हो जाता हूं, और उन्हें भी कर देता हूं. और उनकी चूत चूसने लगता हूं और वह तेज तेज से मौन करती है, अंकित चूस ईसे खा जा आज से तेरी ही है.. बहुत सालों से भूखी है.. खा जा ईसे और फिर हम 69 स्टाइल में आते हैं और चूसते हैं.

फिर मैं उनकी टांगो के बीच में आकर अपना लंड उनकी चूत पर रखता हूं और पुश करता हूं पर लंड अंदर ही नहीं जाता बहुत टाइट चूत थी उनकी और फिर तेल लगा के धक्का लगाता हूं और आधा लंड अंदर चला जाता है और वह चीख पड़ती है कि हाय आह्ह अह्ह्ह औऊ ह्ह्ह ईई फाड़ दी मेरी.. निकाल ईसे बाहर आह्ह औऊ ईई अम्म्मा पर मैं कहां निकालने वाला था? मैंने एक और झटका मारा और पूरा लंड अंदर डाल दिया वह रोने लगी और बोली निकाल ईसे और मैंने उन्हें चोदना शुरु कर दिया.

थोड़ी देर बाद उन्हें भी मजा आने लगा मैं पूरा लंड बाहर निकलता और फिर पूरा अंदर करता और वह चिल्ला रही थी आह्ह औऊ अह्ह्ह अहह औऊ चोद दे अंकित आज.. मुझे रखेल बना दे अपनी और चोद अपनी बुआ को.. और तेज चोद दे. आज से मैं तेरी रंडी हूं. तू ही चोदेगा मुझे और जो कहेगा वह कुरंगी.. चोद मुझे मैंने उन्हें अलग अलग पोजीशन में चोद रहा था. पहले मैंने चोदा फिर वह उपर आ गई और चुदने लगी और पूरे कमरे में पच पच पच पच की आवाज आ रही थी..

फिर कुत्तिया स्टाइल में आकर मैंने उन्हें बहुत तेज से चोदा उन्हें रोना आ गया और उनकी चूत लाल हो गई और सूज गई और उन से चला भी नहीं जा रहा था.

यह सब होने के बाद मैंने बाहर निकाल कर उनके मुंह में दे दिया और वहीं छोड़ दिया, और उनकी चूत में दे के अपना लंड उन के ऊपर ही लेट गया और फिर बाद में हमने किचन में भी चुदाई किया.

नेक्स्ट स्टोरी में बताऊंगा कि कैसे मैंने उन्हें अगले ३ दिन चोदा और कैसे मैंने उनकी बड़ी गांड मारी और वह कैसे चुद चुद कर बेहोश हो गई और कैसे मेरे दोस्तों ने भी उन्हें चोदा.

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *