कज़िन बहन की चुदाई

फिर मैने धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करना शुरू किया. और फिर स्पीड इंक्रिज की. दिशा को बेहद्द मज़ा आ रहा था वो सेक्स को जमकर एंजॉय कर रही थी और कह रही थी “ओह्ह या!! फक मी हार्डर. फक मी आज़ हार्डर आज़ यू कॅन”. फिर आधे घंटे तक हमारा सेक्स चला और हम दोनो डिसचार्ज हो गये. वो फिर मेरा लंड चूसने लगी और कहने लगी आज तो मज़ा आ गया और फिर वो वॉशरूम मे चली गई.

जब वो वापस आई तब मैने उसे पूछा फिर ऐसा मज़ा कब दोगि तो उसने हासकर बोला बोहोत जल्द भैया इतनी जल्दी जितना आपने सोचा भी नही होगा. मैं कॅनफ्यूज़ हो गया और इस बारे मे सोचने लगा तभी मैने देखा की वो अपनी अंडरवेर पहनने के लिए झुकी और अपनी बड़ी सी गॅंड का छेद मुझे दिखाने लगी वो देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और मैने जाकर अपना लंड उसकी गॅंड पर टीका दिया और उसकी गॅंड पर फेरने लगा. वो सीधी हुई तो और मैने उसे गले पे किस करना शुरू कर दिया. वो फिर से सिड्यूस हो गई और उसने घूम कर मुझे लीप किस देना शुरू कर दिया. और कहने लगी बोला था ना बोहोत जल्दी मज़े दूँगी मेरी पूरी बॉडी तो आपने अपनी बना ली अब इधर से (गॅंड से) कोई परेशानी है क्या इसे भी आज अपना बना ही लो. और वो फिर से बेड पर डॉगी स्टाइल की पोज़िशन मे आ गई.

मैने फिर से लोशन लगाया और लंड गॅंड पर टीका कर एक ज़ोरदार स्ट्रोक मारा और एक बार मे पूरा लंड अंदर कर दिया. बॅडलक से उस टाइम उसने चिल्ला दिया तो मैने तुरंत अपना हाथ उसके मूह पर रख दिया फिर थोड़ी देर बाद उसका दर्द कम हुआ तो वो बोली की बताया क्यू नही की इतना दुखता है तो मैने कहा की जब चूत पर मारा था तब तुम नही चिल्लाई थी अब चिल्ला दोगि मुझे नही मालूम था.

उसने कहा ठीक है अब कंटिन्यू करो मैं अपने मज़े खराब नही करना चाहती. मैं ओके कहकर लंड अंदर बाहर करना शुरू किया करीब 15-20 मिनिट के सेक्स के बाद मैं उसकी गॅंड मे डिसचार्ज हो गया. फिर हम लोग साथ मे वॉशरूम गये और बाथ लेने लगे बाथ लेते मैने फिर से लंड उसकी चूत मे डाल दिया और उसकी एक टाँग उठाकर उसे जमकर चोदने लगा थोड़ी देर बाद मैने जब बंद कर दिया. फिर हम दोनो ने घर ठीक किया और मेरी बेडशीट उसके चूत के खून से खराब हो गई थी तो हम दोनो ने फटाफट उसे मशीन वॉश कर के सूखने डाल दिया.

फिर उसने मुझे कहा की काश मैं आपसे शादी कर पाती तो मैं हर दिन आपके साथ सेक्स करती मैने कहा ऐसा नही हो सकता लेकिन हर दिन सेक्स करने के लिए शादी करना ज़रूरी नही है वो हसी और फिर से आने का कहकर चली गई. जाते2 उसने मुझे एक डीप किस की और मैने शाम को उसे आई-पिल लाकर दे दी. और उस दिन के बाद से हम लोगो ने हर बार सेक्स करना शुरू कर दिया. मैं हर कमरे मे उसे भगा2 के चोदता रहता हू. आगे मैं आपको बताउन्गा की कैसे मैने उसकी फ्रेंड दर्शिता को अनलिमिटेड सेक्स एक्सपीरियेन्स दिया. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *