जब चूत की झड़ी लगी

अब नसरीन आती हे मेरा लंड पकड़ के मुझे चुटकी काट के कहने लगी बड़े लंड के लिये फिरती रहती हूँ और देखती हूँ की कितना दम हे तुम मे ओर तुम्हारे लंड मे ओर हंस दी. खेर मेरा तो लंड ही खड़ा नही हो रहा था दोस्तो घबराहट की वजह से खेर आंटी रुबीना ओर उसकी बहन पास बेठ कर हमें देखने लगी ओर नसरीन साहिबा ने मेरा लंड हाथ मे पकड़ के हिलाना शुरु किया ओर मुहँ मे डाल लिया ओर ऐसे चुसने लगी जेसे पागल हो गई हे. खेर 5 मिनिट के बाद मेरा जिस्म फिर से गर्म हुआ ओर लंड मे कुछ जान आई ओर कुछ वो खड़ा हुआ खेर मुझे अब मज़ा आ रहा था खेर मैने सोचा की आंटी रुबीना को तो मे कम से कम 2 या 3 बार चोदता हूँ चलो इस बार 3 चूत हैं 3 बार चुदाई तो करनी हे इसलिये रिलेक्स हो जाओं खेर अब मे आंटी के बोबे पकड़ के दबा रहा था साथ में उसकी खुली चूत मे तेज तेज उंगली कर रहा था.

आंटी रुबीना की बहन ओर उसकी दोस्त भी शादीशुदा थी. खेर मे साथ साथ नसरीन की गांड मे अब कभी कभी उंगली डाल देता खेर तकरीबन 10 मिनिट के बाद नसरीन ने मेरा लंड चूस के छोड़ा ओर कहा की आ जाओ जानी मारो अब चूत ओर खेर मे अब फुल जोश मे था इतने मे आंटी रुबीना उठ के मेरे पास आ गई ओर मेरा लंड हाथ मे पकड़ कर हिलाने लगी ओर मेरे कान मे प्यार से कहा मेरी कसम मूझे शर्मिंदा ना करवाना इसकी चूत ऐसे मारो जेसे मेरी मारते हो. मे समझ गया की आंटी अपनी ओर मेरी स्टोरी सुना चुकी ही इनको. खेर मैने नसरीन की गांड के नीचे तकिया लगा दिया ओर अब उसकी चूत उभर के मेरे लंड के सामने थी मैने उसकी टाँगें उठा कर हवा मे सीधी उपर की तरफ करके खोल कर पकड लीं ओर लंड को उसके हाथ मे पकड़ा कर कहा रखो अपनी गर्म चूत पर अब मे बताता हूँ तुम्हारी बारी आई चूत मरवाने की खेर उसने मेरा 6.5 इंच लंबा लंड को थूक लगा कर चूत के छेद पर रखा ओर मैने साथ ही जोर से डाल दिया अपना लंड उसकी चूत मे मेरा आधा लंड उसकी चूत मे था. जब मैने आंटी रुबीना ओर उसकी बहन को देखा तो वो दोनो एक दुसरे की चूत मे उंगली डाल रही थी. यह देख कर मे ओर भी गर्म हो गया ओर उधर तेज तेज नसरीन की चूत मे लंड आर पार करने लगा ओर नीचे से वो भी साथ दे रही थी.

मे कभी कभी पूरा लंड बाहर निकाल कर एकदम से लंड फिर अंदर डाल देता जिससे नसरीन हिल जाती थी. खेर मेरा लंड उसकी चूत की चुदाई कर रहा था. और नसरीन के बोबो को मुँह मे डाल कर साथ में चूस रहा था जिससे वो ओर भी गर्म हो चुकी थी ओर गांड उठा उठा कर मरवा रही थी. खेर तकरीबन 8 मिनिट तक मैने उसकी ऐसी चूत मारी उसके बाद मैने उसे उल्टा होने को कहा ओर वो घोड़ी बन गई ओर मैने पीछे से उसकी टांगे पकड़ कर ओर खोल दी ताकि उसकी चूत बिल्कुल साफ मेरे लंड के सामने खुल के नज़र आये.खेर मैने एक उंगली उसकी गांड मे डाल दी ओर लंड डाल दिया उसकी चूत मे अब मे नीचे से उसकी चूत मे लंड तेज तेज अंदर बाहर कर रहा था ओर साथ में उसके बोबे पकड कर तेज तेज फुल जोश मे दबा रहा था ओर वो बार बार कह रही थी आहिस्ता दबाओ प्लीज लेकिन मे उससे कह रहा था बहुत शोक था चुदवाने का तो अब आराम से चुदवाओ ओके. रूम मे पचक पचक की आवाज़ें आ रही थी. उधर अब तक कई बार आंटी रुबीना ओर उसकी बहन एक दुसरे की चूत चूस चूस कर झड़ चुकी थी.

मेरा लंड अभी तक फुल जोश मे था ओर नसरीन 2 बार झड़ चुकी थी अब उसकी चूत की यह हालत थी की वो थोड़ी गीली हो कर मेरे लंड को दबा रही थी अंदर से खेर. इससे मूझे ओर भी जोश आ रहा था. साथ साथ मे नसरीन से सेक्सी ओर गंदी गंदी बातें पूछ रहा था खेर नसरीन ने बताया की उसके पति का लंड भी मेरी साइज़ का ही लेकिन उसका मोटा नही हे इतना इसलिये तुम्हारा लंड डलवा कर मज़ा आ रहा हे बहुत रुबीना सही कहती थी की तुम से चुदवाऊ किसी दिन अब तो तुम्ही से बोलती रहूँगी आ जाओंगे ना मैने कहा यह भी पूछने की बात हे जनाब जब कहो मे हाज़िर हो जाऊँगा. इतने मे रुबीना ने अंदर से पूरी ताक़त से लंड को ओर ज़ोर से दबा लिया ओर मे एकदम ढीला पड़ गया मूझे बहुत मज़ा आ रहा था उसने अपनी चूत को टाइट कर शायद कुछ सेकेंड ऐसे ही रखी फिर दोबारा उसकी चूत ढीली पड़ी तो मैने अपनी चुदाई फुल तेज कर दी अब मे भी झड़ने वाला था. मे अब पूरी तेज स्पीड से उसकी गीली चूत मार रहा था ओर वो सच मे अब दर्द फील कर रही थी कुछ देर बाद मैने उसके बोबे ज़ोर से पकड़ कर लंड पूरा बाहर निकाल कर अंदर डालना चालु किया जिससे वो ओर भी चीखने लगी खेर तकरीबन 1 मिनिट बाद मे झड़ने वाला था ओर मैने कहा निकाल दूँ क्या चूत मे उसने कहा की नही प्लीज बाहर निकालो मेने जल्दी से लंड बाहर निकाला ओर उसने लंड मुँह मे ले कर चूसना शुरु किया.

Pages: 1 2 3 4 5 6