लेस्बियन बुआ ने मेरी गुलाबी कच्ची चूत का ढक्कन खोला

मैं उनकी कहानी के बीच में अपने दूध को मसलते हुए बोली, आप तो अब भी कम नहीं हो.

वह मुझे थोड़ा तीखी आवाज में बोली ऐसे कहानी के बीच में बोलकर कहानी का मजा किरकिरा मत कर वरना तेरी चूत में अपना हाथ डालकर कर फाड़ दूंगी.

मैं भी डरते हुए धीमी आवाज में कहा नहीं बूआ ऐसा मत करना. वह अपनी कहानी को आगे बढ़ाते हुए बोली एक छगन तेली था जिसकी उम्र करीब ६० साल की थी. एक बार उस गांव में तेज बारिश के चलते बाढ़ आ गई और उसने मुझे बचाया. जब मेरी आंख खुली तो मैंने अपने सामने छगन को बिल्कुल नंगा देखा और पूछा तुम ऐसे नंगे क्यों खड़े हो?

तब उसने कहा तुम्हारी जान बचाने की वजह से मेरे कपड़े गीले हो गए. तभी मैंने भी महसूस किया कि मेरे बदन पर कोई कपड़ा नहीं था. मैं बहुत घबरा गई हूं और वहां से भागने की कोशिश करने लगी.

उस बुड्ढे ने मुझे वहीं रोक दिया और बेड पर जोर से पटक दिया और मेरे नंगे शरीर पर टूट पड़ा.

अब वह मेरे बूब्स को जोर से चूसने लगा और अपना हाथ मेरी चूत पर रख कर अपनी एक उंगली मेरी चूत में डाल कर ऊपर नीचे करने लगा.

मेरी दर्द के मारे आःह्ह्ह औउ निकलती गई और वह जोर जोर से करता रहा और मेरे दूध को पीने लग गया. थोड़ी देर बाद मुझे भी मजा आने लगा. मैंने भी उसके लंड को हाथ में पकड़कर अपनी चूत की तरफ इशारा किया.

यह इशारा बुढा एकदम समझ गया और अपना लंड पर थूक लगाकर एक ही झटके में मेरी चूत को फाड़ दिया और जोर जोर से ऊपर नीचे करने लगा. मेरे दर्द के मारे जान निकलने लग गई. थोड़ी देर बाद मेरी चूत उसके लंड का मजा लेने लगी, और उसने अपना सारा पानी मेरी चूत में ही निकाल दिया.

बुआ की यह कहानी सुनकर मेरी चूत भी लंड का स्वाद लेने के लिए तड़प गई. मैंने अपनी बुआ को देखते हुए कहा मे लंड को अपनी चूत में लेना चाहती हूं.

उस ने मुझसे कहा आआ मेरी बच्ची आज तुझे बिना लडकों के ३ तरीके बताती हूं जिससे तुझे लंड जीतना ही स्वाद आएगा.

मेरे कहा कौन से ३ तरीके?

उसने कहा सुन पहला तरीका.

मैंने कहा सुनाओ.

अपनी टांगे खोल कर मेरे सामने बैठ जा.

मैंने ऐसे ही किया और बुआ ने मेरी उंगली अपनी चूत में डलवा दी और कहा जब तक मैं ना रुकु तक तुम ऊपर नीचे करते रहना.

मैं अपनी बुआ को कहने लगी वह आप खुद के मजे ले रही हो, मेरा क्या?

बुआ ने कहा मेरी बच्ची तेरी बुआ ऐसे नहीं हे की खुद ही मजे ले. ईतना कहते हुए बुआ ने अपनी दो उंगलिया मेरी चूत में डाल कर ऊपर नीचे करने लगी.

ऐसे करने से मुझे बहुत मजा आने लग गया और मेरा अगले ५ मिनट में ही पानी निकल गया और मैं तड़प कर बेहोश सी हो गई, और थोड़ी देर बाद ही बुआ की चूत से भी पानी बरस गया अब हम दोनों नंगे होकर लेटे रहे.

बुआ के साथ ऐसा करके मुझे बहुत अच्छा लगा.

अब बुआ ने मुझे दूसरा तरीका बताते हुए कहा तुम अभी बेड पर सीधा लेट जाओ, और मैं भी अब सीधा लेट गई. वह अब मेरे ऊपर आकर अपने भोसड़े जैसी चूत को मेरी छोटी सी चूत पर लगडने लगी.

अब मुझे भी उनके रगडने से मजा आ रहा था, मैं भी उनका जवाब दे रही थी. थोड़ी देर बाद बुआ की चूत से पानी बरस गया और मेरी छोटी सी चूत मानो समुंदर में डूब गई.

अब मैंने बुआ को नीचे करते हुए खुद को ऊपर ले लिया और अपनी कश्ती जैसी चूत को समंदर जैसी बड़ी चूत पर लगाना शुरु कर दिया, अब उस ने मुझे तीसरा तरीका बताया.

अब बुआ ने मुझे अपने ऊपर से हटाया और मेरे ऊपर आकर 69 की पोजीशन में लेट गई और मेरी चूत को चाटने लगी और मैं भी उनकी चूत को चाटने लगी. मुझे बहुत मजा आने लग गया और मैंने अपना सारा पानी उनके मुंह में ही निकाल दिया और वह भी तब तक नहीं उठी जब तक उनकी चूत से पानी नहीं निकला.

बुआ के इन तरीकों से अपनी जुदाई करना सीख लिया था और अब वह भी मेरी चुदाई करती रहती थी.

आप भी अपनी फ्रेंड या किसी और लड़की के साथ बिना लंड के भी मजे ले सकते हैं. और किसी को शक भी नहीं होगा कि दो लड़कियां बंद कमरे में सेक्स कर सकती हैं.

Pages: 1 2