Category «Antarvasna Sex Stories»

मेरे दोस्त की सेक्सी बहन की कामुकता

मेरा नाम पुनीत (बदला हुआ) है. मेरी उम्र 29 साल है. मैं देखने में ठीक-ठाक हूँ. मेरा लंड छह इंच का है. आज मैं आपसे अपनी असली कहानी बताना चाहता हूँ. यह बात उस वक़्त की है जब मैं बी.टेक. के फाइनल इयर में था, तब मैं 23 साल का था. हमारे पड़ोस में एक …

बॉस की बीवी ने घर बुलाकर चूत चुदाई

मैं राज हूँ. मैं सूरत से हूँ. एक दिन की बात है, जब मैं ऑफिस में था, मेरे बॉस केबिन में बैठे थे. बॉस बड़े ही अच्छे और शान्त स्वभाव के इंसान हैं और बातचीत में भी अच्छे हैं. उन्होंने मुझे बुलाया और पूछा- आप अभी फ्री हो? मैंने कहा- जी बिलकुल फ्री हूँ. मुझे …

पिचकारी घुसी पिछवाड़े में

आप लोगों के सुझाव मुझे मिले और तारीफों के लिए शुक्रिया। मैं कोशिश करूँगा और अच्छा लिखने की। तो अब आते हैं इस बार की कहानी पर। रिसोर्ट वाली मस्ती के बाद शोभा और मैं आपस में खुल गए। अब ऑफिस में भी मौका मिलता तो हम चुम्बन कर लेते थे। कभी मैं उसके नितम्ब …

देवर ने की भाभी की चूत चुदाई

दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार, मेरा नाम सुनीता है. मैं थोड़ी प्यासी औरत हूँ. वैसे मेरे पति तो मुझे चोदते ही हैं लेकिन मुझे और ज्यादा चुदवाने का मन करता है. मेरा अन्दर बहुत सेक्स है. मेरे पति जब भी मुझे चोदते हैं तो वो जल्दी झड़ जाते हैं जबकि मैं और सेक्स के …

पति पत्नी और औलाद का सुख

मेरा नाम कोमल है और मेरी उम्र 30 साल है। मैं एक कंपनी में बहुत अच्छी नौकरी करती हूँ। मेरे पिता कुछ समय पहले तक इसी कंपनी में महाप्रबंधक थे जिसकी वजह से मुझे नौकरी ढूंढने में कोई परेशानी नहीं हुई। अब वो सेवा निवृत्‍त हो चुके हैं। मगर उनकी वजह से मुझे कभी कोई …

पति पत्नी की बेताब चुदाई की कहानी

कहानी पढ़ने वाले सभी पाठकों को प्रतिभा का नमस्कार. मैं और मेरे पति बहुत दिनों से इस साईट पर चुदाई की कहानी पढ़ रहे हैं. कुछ औरतों की लिखी कहानियां भी पढ़ीं, उनसे प्रभावित होकर मैंने भी कहानी लिखने की सोचा, तो पति ने भी अनुमति दे दी. अब मैं आप सभी को पहले अपने …

मकान मालकिन की प्यासी जवानी

अन्तर्वासना के सभी पाठकों और लेखकों को नमस्कार. उम्मीद करता हूँ कि लंडों को चूतों और चूतों को लंडों की गर्माहट मिल रही होगी. मेरा नाम सन्दीप है और मैं अम्बाला का रहने वाला हूँ. मैं एक सरदार परिवार से सम्बन्ध रखता हूँ. यह मेरी अन्तर्वासना पर पहली कहानी है, तो लिखने में कोई ग़लती …

चंड़ीगढ़ में मेल एस्कॉर्ट का जॉब

कौन कहता है कि इंसान का नेचर और सिग्नेचर नहीं बदलता, मैं कहता हूँ कि सिर्फ़ एक चोट की ज़रूरत है. हाथ पे लगे तो सिग्नेचर… और दिल पे लगे तो नेचर तो, क्या इंसान भी बदल जाता है. नमस्कार पाठको, मैं राजदीपक आप के साथ अपनी फर्स्ट सेक्स स्टोरी शेयर कर रहा हूँ. मैं …