इंग्लिश की मैडम की चुदाई स्कूल में ही कर दी

सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी।

मेरा नाम अपूर्व चौहान है। मैं अभी क्लास 12th में पढ़ता हूँ पर 12 से भी अधिक लड़कियों का मैंने काम लगाया है। मेरे क्लास की बरखा, नूरी, अनन्या और सोनिया जैसी खूबसूरत लड़कियों को मैं चोद चूका हूँ। मेरा कद 6 फुट है और मेरा बदन काफी चुस्त और फिट है। इस वजह से मेरा लंड भी कम तन्दुरुस्त नही है।

आपको बता दूँ की मेरे लंड की लम्बाई 6.5” से भी अधिक है और 2” चौड़ा है। इस वजह से जिस लड़की के साथ मैं चुदाई करता हूँ उसे बहुत मजा आता है। फ्रेंड्स मैंने क्लास की लड़कियों को हमेशा चुदाई वाली नजर से देखा था पर कभी सोचा नही था की अपनी टीचर की चुदाई कर दूंगा। मेरी पुरानी इंग्लिश टीचर मीना मैडम रिसाइन देकर चली गयी थी। उनकी शादी हो गयी थी। इसलिए अब एक नई जिया मैडम पढाने आने लगी थी।

वो शादी शुदा औरत थी और क्लास में साड़ी पहनकर आती थी। वो जादातर क्रीम या गुलाबी कलर की साड़ी पहनती थी। पहली नजर में मैं उनको अपना दिल दे बैठा था। उनका फिगर आलिया भट्ट से कम नही था। वो साड़ी में भी किसी नई लड़की से कम नही लगती थी। उसकी आवाज तो कोयल जैसी थी। मेरी क्लास के सभी लड़के उनकी जवानी पर लट्टू थे। जिया मैडम का फिगर 34 28 30 का था। उनके दूध काफी कसे थे और हमेशा ही स्लीवलेस ब्लाउस पहनती थी जो पीछे से लगभग खुला ही होता था।

साड़ी को कमर पर टाईट बाधती थी जिस वजह से उनके मस्त मस्त मटकते कुल्हे दिख जाते थे। फिर मैं रोज ही जिया मैडम को देखने लगा। उनके यादकर टॉयलेट में जाकर मुठ मारता था। एक दिन जब छुट्टी हुई तो मैं उनके पास कुछ क्वेश्चन पूछने गया। वो टीचर रूम में बैठकर मुझे बताने लगी। तभी उनके साड़ी का पल्लू नीचे सरक गया और उनके डीप नेक ब्लाउस से उनके खरगोश जैसे सॉफ्ट सॉफ्ट दूध दिखने लगे। उन्होंने आज ब्लैक साड़ी पहन रखी थी। वो मुझे देख ली।

“इस तरफ क्या देख रहे हो??” वो कहने लगी

“कुछ नही मैडम!! कुछ नही” मैंने कहा

कुछ देर बाद मैं उनके बूब्स की तरफ फिर से देखने लगा। अब वो चालू हो गयी। टेबल के नीचे से मेरे पैर पर पैर लगाने लगी। मैं उपर देखने लगा। वो अपने पैर को मेरे पैर से टकराती रही। फिर हम दोनों ही एक दूसरे को ताड़ने लगे। मैंने उनके हाथ को पकड़ लिया और सहलाने लगा। वो मुझे देखे जा रही थी। मुझे चुदास चढ़ गयी। मैंने दरवाजा हल्का सा बंद किया और जाकर उनको पकड़ लिया। होठ पर होठ रखकर किस करने लगा।

“ओह अपूर्व!! “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा सी सी सी”

वो करने लगी

मैंने उनके ब्लैक ब्लाउस के उपर से उनके दूध दबाना चालू कर दिया। मेरा अंदाजा सही था। जिया मैडम के मम्मे 34” से बड़े ही होंगे। वो आराम आराम से दबवाती रही।

“अपूर्व! क्या तुम मुझे हमेशा ही उस नजर से देखते हो??” वो कहने लगी

“हाँ!! मैंने कहा

उसके बाद मैंने कुछ देर उनके दूध दबा दबाकर उनके लिप्स को चूसा। जिया मैडम ने कॉपर कलर लिपस्टिक लगा रखी थी। मैंने चूस डाला।

“रुको अपूर्व!! यहाँ पर सेफ नही है। कही और चलो” वो कहने लगी

“मैडम बगल वाला क्लासरूम खाली है। छुट्टी हो ही चुकी है। उधर कोई नही आयेगा। उधर ही चलते है” मैंने कहा

“सही कह रहे हो” वो कहने लगी

हम दोनों बगल वाले कमरे में चले गये।

“दूध पिलाइये मैडम” मैंने कहा

वो ब्लैक साड़ी में सेक्सी आयटम लग रही थी। साड़ी हटा दी। फिर अपना ब्लैक ब्लाउस खोल डाली। उन्होंने ब्लैक ब्रा को धीरे से जैसे ही उचकाया तनी तनी दोनों सफ़ेद चूचियां बाहर निकल आई।

“ओह्ह गॉड!! क्या चूचे है आपके मैडम” मैंने कहा और दौड़कर पकड़ लिया और हाथ से लेकर मसलने लगा। वो “……अई…अई….अई…..इसस्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” करने लगी। चिकने दूध मेरे हाथो से फिसल फिसल जा रहे थे। मैं जीभ लगाकर उनकी निपल्स को चाटने लगा। उनके दूध पर काले काले घेरे चमकते हुए कितनी शोभा दे रहे थे। मैं मुंह में लेकर चूसने लगा। जिया मैडम बेच पर लेट गयी थी। वो कामुक आवाजे निकाल रही थी। मैं दोनों दूध को लेकर बारी बारी से चूस रहा था।

“अपूर्व!! तुम अच्छा चूसते हो” वो कहने लगी

मैं हाथ से उनकी निपल्स को दबाने लगा। फिर और चूसा।

“मुझे नंगा मत करना। ऐसे ही कर लो” वो बोली और अपनी ब्लैक साड़ी को नीचे से पकड़ी पेटीकोट के साथ उपर उठा दी। खुद ही अपनी पेंटी उतारी।

Pages: 1 2 3