गांद का मज़ा खुली चूत मे कहा

हेलो दोस्तो मैं विक्रम आज बहोट टाइम बाद आप सब के लिए अपनी एकदम नयी कहानी ले कर आया हूँ. जो की मेरे साथ हाल मे ही घटी है. दोस्तो ये कहानी एक दम सच्ची और मस्त है. मुझे उमीद है आप को मेरी ये कहानी भी पसंद आएगी. आज की कहानी मेरे और मेरे पड़ोस मे रहने वाली एक मस्त और हॉट भाभी के बीच हम दोनो के सेक्स की है.

कहानी शुरू करने से पहले मैं आप को अपने बारे मे बता हूँ. जैसा की मैने आप को बताया की मेरा नाम विक्रम है. और मेरी उमर 24 साल है. मैं अभी बी.कॉम फाइनल ईयर मे हूँ. और मैं दिखने मे हैंडसम हूँ. मेरी बॉडी कुछ खास नही है पर मैने अपने आप को काफ़ी मेनटेन रखा हुआ है.

मैं अपने से ज़्यादा अपने लंड का बहोट ख़याल रखता हूँ. क्योकि अगर मर्द का लंड किसी के काम नही है तो वो किसी काम का नही होता है. इसलिए मैं अपने को हमेशा एकदम चिकना और सॉफ सुथरा रखता हूँ. मैने सब से पहले अपने स्कूल मे पढ़ने वाली इंग्लीश की टीचर को चोदा था और कुछ दीनो बाद उसकी बड़ी बेटी को भी चोद दिया था.

फिर मैं कॉलेज मे आया और कॉलेज के पहले ही महीने मैने अपनी क्लास की 2 लड़कियो को अपने रॉकेट की सैर करा दी थी. लास्ट ईयर तक आते आते मैने करीब 12 लड़कियो और अपनी 2 टीचर्स को अपने लंड का सवाद चका दिया है. टीचर्स तो साली इतनी प्यासी है की अब तक मुझसे चुदति है.

मैं जहा पर रहेता हूँ वाहा पर आज से 4 महीने पहले एक नयी फैमिली शिफ्ट हुई थी. उनकी फैमिली मे हस्बैंड वाइफ और उनके 2 बच्चे थे. भाईया का नाम सुनील था जो की एक फ़ार्मा कंपनी मे मार्केटिंग का काम करते थे. भाभी का नाम टीना था और वो घर मे अपने बच्चो को संभालने के साथ साथ पूरा घर भी संभालती थी.

कुछ भी कहो साली टीना भाभी दिखने मे पूरी मॉडेल थी. इतनी सेक्सी और हॉट भाभी मैने आज तक नही देखी थी. रंग गोरा और बूब्स ना तो ज़्यादा बड़े और ना ही ज़्यादा छोटे. उन बूब्स को कोई भी देख कर एक दम पर्फेक्ट बूब्स ही कहेगा इतने सेक्सी बूब्स थे उसके. उसके चेहरा ही इतना मस्त और सेक्सी था की हम जैसे लड़के तो उसके होंठो को देख कर ही मूठ मार लेते थे. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

टीना भाभी का फिगर एक दम सन्नी लीयोन जैसा था. मुलायम और सॉफ्ट थोड़े थोड़े बाहर निकले हुई गांड. जिसे देख कर एक ही मन करता था की बस इन्हे हाथ मे ले कर दबा दो बस. भाभी सच मे बहोट सेक्सी थी. हमारे मोहल्ले के क्या आस पास के भी काफ़ी लड़के उसके पीछे पड़े हुए थे.

हर कोई भाभी को अपने नीचे सुलाना चाहता था. मैं भी उसे पहली बार देख कर उसी का होकर रह गया. मैं किसी भी हालत मे टीना भाभी की चूत को मारना चाहता था. पर मैं अभी तक उन्हे छुप-छुप कर देखने के सिवा और कुछ नही कर पा रहा था. उनके सेक्सी जिस्म मेरी आँखो मे बस गया था. मैं अब सुबह शाम उनको याद करके मूठ मारता था.

जब मैं अपने कॉलेज से फ्री हुआ तो मैं पूरा दिन अपने घर पर ही रहेने लग गया. तब मैने देखा की भाभी मेरे घर भी आती है और मम्मी से बातें करती है. मैं अपने रूम मे से उन्हे छिप कर देखता था. और जब वो छत पर कपड़े सुखाने के लिए आती तो मैं भी किसी ना किसी बहाने से छत पर आ जाता था. और भाभी को देखता था.

और भीगे हुए कपड़ो मे इतनी सेक्सी लगती थी की बस पूछो मत. कपड़े गीले होने की वजह से उनके जिस्म से पूरे चिपक जाते थे. और उनका असली फिगर मेरे सामने आ जाता था. कहीं बार तो मेरे लंड ने ऐसे ही अपना पानी निकाल दिया था. अब मैं समझ गया था की अब मुझे कैसे भी करके भाभी से बात शुरू करनी ही पड़ेगी.

इसलिए जब भी भाभी छत पर आती तो मैं भी किसी ना किसी बहाने से उप्पर आ जाता था. और एक दिन मैने उनसे बात शुरू कर दी. और उस दिन के बाद हम दोनो अक्सर बातें करने लग गये. भाभी अब जब भी मेरे घर पर आती थी. तो वो मुझसे भी बातें करने लग जाती थी. भाभी जान कर मम्मी के सामने मुझसे अपने कुछ काम करवाती थी. जिसे मम्मी को शक हो की हम दोनो मे कुछ है.

एक दिन की बात है मैं भाभी के घर गया तो मैने देखा की भाभी अपने 2 साल की लड़की को अपने बूब्स से दूध पीला रही थी. मुझे उनका लेफ्ट वाला बूब्स पूरा दिख गया और मैं गोरा बूब्स देखते ही पागल हो गया. मेरा दिमाग़ पागल सा हो गया मैरा दिल कर रहा था की अभी बूब्स को मूह मे डाल कर चूस लू. जैसे ही भाभी ने मुझे देखा तभी भाभी ने अपने बूब्स को छुपा लिया.

Pages: 1 2 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *