सर आप मेरे को प्रैक्टिकल में अच्छे नंबर दे दो! मैं आपको अपनी चूत का उपहार दूंगी

“चोदो सर! और जोर से! फाड़ डालो मेरी चूत को! आज इसका भोषणा बना दो” सुष्मिता कहकर चुदवा रही थी। मेरा मौसम बहुत जबरदस्त बन गया था। पूरा बेड पर हिल रहा था। खूब जोर जोर से हचक हचक की चुदाई करते ही वो चिल्लाने लगी। मैंने उसे उठा दिया। कुछ देर तक तो मैने खड़े होकर ही उसकी चुदाई की। उसके बाद मैंने उसे अपनी गोद में उठाकर उसे चोदने लगा। मैंने उसकी चूत में अपना लंड जड़ तक घुसाकर उसकी चुदाई करने में मस्त था। वो भी मेरे गले को पकड़ कर उछल रही थी। मै झड़ने की कागार पर पहुच चुका था लेकिन उससे पहले चुदाई रोककर उसे किस करने लगा। मेरे लंड से दो चार बूँद वीर्य निकाला और लगभग पांच मिनट बाद मैं फिर से काम पर लग गया। मैंने इस बार उसे झुकाकर चोदना शुरू किया।

उसके पेट को पकड़कर मैंने अपना पूरा लंड उसकी चूत में घुसाकर चोदने लगा। सुष्मिता के दोनों दूध हिला रहे थे। मेरे लंड की दोनों गोलियां उसकी चूत पर लड़ रहे थे. जोर जोर से लंड घुसाने पर उसकी चीखे निकलने लगा। वो तेज तेज से “आऊ….. आऊ…. हमममम अहह्ह्ह्हह… सी सी सी सी.. हा हा हा..” की आवाज से पूरा कमरा भर दी। उसकी गांड पर हाथ फेर कर उसको भी उत्तेजित कर रहा था। उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया।

“सर आप मेरे चूत में ही गरमा गरम माल मत गिराना! कही मैं पेट से हो गयी तो बहुत समस्या हो जायेगी” उसने हसते हुए कहा
“तो मैं तुमसे शादी कर लूँगा” मैंने कहा,, हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
चूत के पानी से मेरा पूरा लंड भीग गया। मेरा भीगा लंड उसकी चूत में और भी तेजी से चुदाई कर रहा था। मेरा लंड भी ज्यादा देर तक उसकी चूत की रगड़ नहीं सह पाने वाला था। वो भी कुछ ही देर में झड़ने वाला था। मै जोर से उसकी चूत में लंड घुसा रहा था। सुष्मिता की चूत बार बार अपना पानी छोड़ रही थी। मै भी स्खलित होने वाला था। मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाल कर उसके मुह में रख दिया। कुछ ही पल में मेरा सारा माल उसके मुह में छूट गया। सुष्मिता ने मेरे माल को पीकर मेरे लंड को चाट कर साफ़ किया। मै सुष्मिता को मौक़ा मिलते ही जरूर चोदता हूँ। उसे बीबी की तरह प्यार करता हूँ।

Pages: 1 2 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *