मेरा पहला सेक्स अपने अंकल के साथ

हेलो फ्रेंड मे प्रिया हू. मेरी उमर 20 की है. मेरी फिगर 34 28 30 वेरी सेक्सी है.मेरी फॅमिली मे मे मेरी मा, पापा, भाई भाभी है. सब के बारे मे बोलू तो मेरी मा 48 की है उसकी फिगर 36 32 34 है उसका नाम सुमित्रा है. ओर मेरी भाभी 29 कई है उसका नाम सोभना है.उसकी फिगर 36 30 34 है. मेरे पापा 52 के है लुक मे हॅंडसम है अभी भी जवान दिखते है. ओर मेरा भाईं 3ओ का है. भाभी बता ती थी की उसका लंड बहुत बड़ा है.

ये तो थी मेरी फमेली अब मे आपको स्टोरी के बारे मे बताती हू. मे यहा पे कई बार स्टोरी पताती हू. एक दिन मुझे भी ईसा हुई स्टोरी लिख ने की तो मेरे साथ जो कल हुआ उसके बारे मे लिख ती हू.मेरा एक ब्फ है उसकी दुकान है कपड़ो की वो सभी प=प्रकार के कपड़े रखता है जैसे लेंगस, सारी, साकलवार, लाइनाये . मे उसकी दुकान मे कई बार चूड़ी हू.

अब उसी दिन के बारे मे बता ती हू पहले सुबह के 9 बजे होगे उसका फोन आया. दुकान वाले का नाम तो बता ना भूल गयी उसका नाम संजय है वो 25 का है दुकान उसके पापा चलते है लेकिन ज़्यादा तार वो बाहर ही रहते है अब तो वो ही दुकान मे होता है. उसके लंड की साइज़ 7 इंच है. वो मुझे हर तरह की हेल्प करात था जैसे सब से ज़्यादा डिसकाउंट वो मुझे ही देता था. आज सुबह ही उसक मुझे कॉल आया.

“हेलो कों है” मेरी आवाज़ सुनके वो बोला,

” प्रिया मे संजय हू.”

” ऑश संजय तुम कैसे हो कैसे याद किया आज तुम ने”

” कूस नही अपनी डार्लिंग को याद भी नही कर सकत्या क्या इतनी ठंडी मे”

” हा हा मे भी तुम है बहुत याद करती हू पर क्या करू अपनी उंगली से ही अभी तो कम चलती हू.”

“क्यू मे हुंा आज मेरी दुकान पे अजाओ कोई नही है पापा भी कम से बाहर गये है ओर अभी कोई भी नही है दुकान पे तो तुम अजाओ ना .”

“ओक मे अभी आती हू.”

फोन रख के मे खुस हो गयी कई दिन हो गये थे सेक्स किए हुआ अब आज मेरी प्यास पूरी होगी.

मे नाहा के रेडी होगे दुकान पे चली गयी.

दुकान पे मुझ देख के संजय खुस हो गया. वो जल्दी से मुझे किस कर ने लगा मेने संभा ला ओर उसे दुकान के चेंज रूम मे ले गया. वाहा उसके मुज़ेः किस करना सुरू कर दिया.उसके मुझे लीप पे ज़ोर से चूम ना सुरू कर दिया. मेने भी उसका साथ दिया मे भी किस करने लगी.

वो कभी मेरे गालो को चूमता तो कभी मेरे गले को मेरी नेक पे.

वो मेरे बूब्स को हाथ से साझला ने लगा ओर मे तभी उसके लंड को

उसका लंड अभी भी ठंडा था. वो ज़ोर से मेरे बूब्स को प्रेस करने लगा.

उसने मेर्स टॉप उतार दिया ओर मेरे ब्रा के उपर से ही बूब्स के प्रेस करने लगा अब यूयेसे लंड धीरे ह्दीरे कहदा होने लगा था. उसका एक हाथ नेरी छूट पे आगेया ओर वो मेरे स्कर्ट के उपर से ही सहला ने ल्लागा. उसके मेरी ब्रा खोल दी ओर ज़ोर ज़ोर से मेरे बूब्स चूसने लगा.

अब मेने उसके कपड़े सारे उतार डाले ओर उसका लंड चूस ने लगी.

उम्ाआ ऊ ओआअ अल्लाआअ उम्मा नीकदे लंड हाई जानू.. उमाऊ ऊओयी यययी आआ आआओ ऊऊ ऊऊ ऊऊ.

संजय भी सिस किया लेने लगा अब उसका लंड टन के खड़ा हो गया था. मे ज़ोर से चूस रही थी.

तक की आवाज़ आए देखा तो भाभी थी.

फोन रख के मे खुस हो गयी कई दिन हो गये थे सेक्स किए हुआ अब आज मेरी प्यास पूरी होगी.

मे नाहा के रेडी होगे दुकान पे चली गयी.

दुकान पे मुझ देख के संजय खुस हो गया. वो जल्दी से मुझे किस कर ने लगा मेने संभा ला ओर उसे दुकान के चेंज रूम मे ले गया. वाहा उसके मुज़ेः किस करना सुरू कर दिया.उसके मुझे लीप पे ज़ोर से चूम ना सुरू कर दिया. मेने भी उसका साथ दिया मे भी किस करने लगी.

वो कभी मेरे गालो को चूमता तो कभी मेरे गले को मेरी नेक पे.

वो मेरे बूब्स को हाथ से साझला ने लगा ओर मे तभी उसके लंड को

उसका लंड अभी भी ठंडा था. वो ज़ोर से मेरे बूब्स को प्रेस करने लगा.

उसने मेर्स टॉप उतार दिया ओर मेरे ब्रा के उपर से ही बूब्स के प्रेस करने लगा अब यूयेसे लंड धीरे ह्दीरे कहदा होने लगा था. उसका एक हाथ नेरी चूत पे आगेया ओर वो मेरे स्कर्ट के उपर से ही सहला ने ल्लागा. उसके मेरी ब्रा खोल दी ओर ज़ोर ज़ोर से मेरे बूब्स चूसने लगा.

अब मेने उसके कपड़े सारे उतार डाले ओर उसका लंड चूस ने लगी.

उम्ाआ ऊ ओआअ अल्लाआअ उम्मा नीकदे लंड हाई जानू.. उमाऊ ऊओयी यययी आआ आआओ ऊऊ ऊऊ ऊऊ.

संजय भी सिस किया लेने लगा अब उसका लंड टन के खड़ा हो गया था. मे ज़ोर से चूस रही थी.

तक की आवाज़ आए देखा तो भाभी थी.

मेरी भाभी कई बार यहा शॉपिंग को आती है लेकिन आज अचानक पता ना चला वो डाइरेक्ट चेंजिंग रूम मे आगाई थी मे स्कर्ट मे थी ओर संजय पूरा नगा था हम शॉक हो गये थे मे दर ने लगी थी अब क्या ह्िॉ गा मे जात से खड़ी हो गयी ओर मेरी टॉप पहन ली.

भाभ मेरे पास आई ओर गुसे से बोली क्या कर रहे हो तुम दोनो .

मे घबर गयी थी कूस ना बोल पाई. मेने हिममत कर के भाभी से बात करनी चाही मेने कहा भाभी प्ल्स आप गहर पे किसीस को मत बोलना प्ल्स भाभी अप बोलो गी वो मे सब करूँगी.लेकिन प्ल्स भाई को मत बोलना भाभी प्ल्स.

मे रोने लगी तभी संजय भी भाभी से माफी माँगने लगा .

भाभी मुस्कर्क़ाय ओर बोली मे किसीस से कूस नही कहूँगी लेकिन तुम मुझे भी इसके साथ छुड़वा ने डोगी. संजय युवर हॅंडसम बॉय उ डोंट नो अबौट तट. संजय आज तो तुम्हे हम दोनो साथ मे चुड़वंगे तुम हर तो नही मानो गे ना.

नाना भाभी मेरे मे ज़्यादा ताक़त है मे दो क्या दिन को भी हॅंडल कर लेता हू संजय की एक दम से दर निकल गया था . वो एक्शिटेड हो गया ओर छुड़वा ने के लिए भाभी कॉकिसस कर ने लगा..उसके बूब्स सक करने लगा तब मे उसके लंड को वापस चूस ने लगी कूस देर बाद भाभी भी गरम हो गयी तो उसके सारे कपड़े निकल दिए ओर मे उसकी छूट को छत ने लगी संजय उसके बूब्स के चूस रहा था

भाभी से अब आहा नही जराहा था तो भाभी ने संजय से बोपला संजय अब मुझे छोड़ दो वरना मे ऐसे ही जड़ जौंगी. संजय देर किए बिना जल्दी से बहभही को डोगी बना के आप ना लंड भाभी की छूट मे दल दिया संजय का लंड जाते ही भाभी सीसी ल्किया लेने लगी ओर छुड़ा का मज़ा ले रही थी मे भाभी के बूब्स चूस ती तो कभी उके क्लितस को सहलाती. 15 मिनूट छड़ी चली होगी तब संजय ओर भाभी एक साथ जड़ गये.

अब मेरे बरी थी संजय के जड़ ने के बाद भाभी ने उसका लंड चूस ना सुरूर कर दिया कूस देर मे फिर से संजय का लंड खड़ा हो गया ओर फिर वो मुझे चुड ने लगा तब भाभी मेरे बूब चूस रही ही अब संजय ज़ोर ज़ोर से छोड़ रहा त्यहा मे 10 मिनूट मे जड़ गयी लेकिन संजय अभी भी जारी था अब वो कूस 20 मिनूट तक मुझे छोड़ा होगा ओर इस बार वो मेरे ओर भाभी के मूह पे जाड़ा मेने उसका सारा माल पी लिए ओर भाभी ने भी हम भाभी ने ओर मेने किस किया ओर अपना मूह सा किया.

बाद मे भाभी मे अपनी सारी पहनी ओर मेने आप नि स्कर्ट ओर टॉप. बाद मे भाभी ने अपने लिए कूस सेक्सी ब्रा ओर पेंटी ली ओर मेने एक टॉप लिए उसकी दुकान से फिर हम दोनो चली गयी .

बहभही के साथ चुदाई मे बहुत मज़ा आया था हमे ये बहुत ही सेक्सी लगा रा था अब तो भाभी ओर मे कई बार उसके साथ चुदाई कर ती है साथ मे ओर भाभी मुझे कई नयी नाइं चुदाई के बारे मे बता ती थी. उसके ओर भाई के साथ सेक्स के बारे मे बता ती थी हम साथ मे जब घर पे कोई ना हो तब सेक्सी मूवीस देखती है अब तो.

आप को असी लगी हो तो प्ल्स रिप्ले ज़रूर भेज ना. ओर कूस भी ग़लत हो तो माफ़ करना ये मेरी पहली स्टोरी है.