प्रिया भाभी की प्यारी चूत चोदी

हैल्लो फ्रेंड्स मेरा नाम निर्मल है और में जालंधर का रहने वाला हूँ, मेरी उम्र 19 साल है और में एक स्टूडेंट हूँ. दोस्तों आज में आप सभी को अपनी एक सच्ची कहानी बताने वाला हूँ. दोस्तों मेरी यह स्टोरी हमारे पड़ोस में रहने वाली भाभी की है. दोस्तों यह बात कुछ 5-6 महीने पुरानी है. में अपनी पड़ोस वाली भाभी को बहुत चाहता था और में हमेशा उसकी गांड मारने की सोचता रहता और कभी कभी तो में अपनी भाभी को सोच सोचकर ही मुठ मार लिया करता था, क्योंकि मुझे उनको देखकर बिल्कुल भी कंट्रोल नहीं होता था और वो दिखने में बहुत सेक्सी लगती थी, दोस्तों मेरी भाभी का नाम प्रिया है और भाभी का फिगर 30-28-34 है और उनका रंग गोरा है गांड थोड़ी सी बाहर और सभी लड़के उसको देखकर एकदम दंग रह जाते थे, लेकिन हमारे पड़ोस में रहने के कारण कभी कभी भाभी हमारे घर पर आ जाती और में भी उनके घर चला जाता.

भाभी की शादी को दो साल हो गये थे और उनका एक बेटा था वो हमेशा साड़ी में रहती थी, लेकिन कभी कभी वो सलवार सूट भी पहन लिया करती थी और जब प्रिया भाभी सलवार सूट पहनती तो क्या मस्त लगती? उनका गोरा गोरा बदन 32 साईज़ के बूब्स कोई भी लड़का उसको एक बार देखे बिना नहीं रह पाता था. उनके पति दुबई में रहते थे और वो साल में एक बार आते थे और जब भी वो आते तो भाभी का चेहरा एकदम खिल जाता और जब जाते तो वो बिल्कुल उदास सी रहने लगती.

फिर एक दिन उनके घर पर कोई नहीं था, बस भाभी ही थी, क्योंकि उनके घरवाले कहीं बाहर गये हुए थे और वो लोग दो-तीन दिन बाद आने वाले थे, लेकिन मुझे इस बात का पता नहीं था और में हर रोज की तरह ऊपर से जाता था, क्योंकि हमारे घर की दीवार बहुत छोटी थी और में हमेशा ऊपर से ही जाता था और जब में नीचे गया तो में यह क्या देख रहा हूँ कि भाभी कमरे का आधा दरवाजा बंद करके अपनी चूत में अपने एक हाथ से उंगली डाल रही थी? और उसको देखकर मेरा लंड एकदम टाईट हो गया और दोस्तों प्रिया की क्या मस्त चूत थी. बिल्कुल गुलाबी रंग की बिल्कुल साफ? में उसको देखकर एकदम दंग रह गया और मेरा मन करने लगा कि अभी इसे पकड़ कर चोद दूँ, लेकिन मैंने उस समय अपने आप पर कंट्रोल रखा और में छुपकर उनकी वीडियो बनाने लगा और करीब 15 मिनट तक भाभी अपनी चूत में उंगलियाँ डालती रही और मज़े लेती रही. फिर मैंने उसी वीडियो को देखकर घर पर आकर मुठ मारी और उसी शाम को में उनके घर गया. तो मैंने देखा कि भाभी किसी से फोन पर कह रही थी कि तुम अब जल्दी आ जाओ मेरा मन नहीं लगता और वो मुझे बाद में पता चला कि वो सब बातें अपने पति से कह रही है और फिर उन्होंने बहुत गुस्से में फोन काट दिया.

मैंने उनके पस जाकर पूछा कि भाभी क्या हुआ? तो भाभी ने मुझसे कहा कि कुछ नहीं, मैंने कहा कि मैंने आपको सब कुछ कहते हुए सुन लिया था, लेकिन आप यह सब किससे कह रही थी? तो उन्होंने कहा कि में वो सब अपने पति से कह रही थी. फिर मैंने कहा कि क्यों भाभी आपको कुछ समस्या है? तो भाभी ने खुद ही कह दिया कि मेरा अब घर पर बिल्कुल भी मन नहीं लगता. मैंने झट से कहा कि भाभी चलो में आपको कहीं बाहर ले चलता हूँ, लेकिन भाभी ने साफ मना कर दिया और अंदर चली गई और वो मुझसे कहने लगी कि तुम 15-20 मिनट यहीं पर बैठ जाओ अगर कोई आए तो उन्हे कह दो कि में घर में नहीं हूँ और अब में नहाने जा रही हूँ.

दोस्तों जब भाभी ने कहा कि में नहाने जा रही हूँ तो में मन ही मन बहुत खुश हो गया कि में आज भाभी को नहाते हुए देखूंगा, लेकिन भाभी ने जाते समय बाथरूम का दरवाजा अंदर से बंद कर दिया, लेकिन उस दरवाजे के ऊपर जाली लगी हुई थी जिसमे से अंदर का सब कुछ दिखाई देता है और फिर जब में सीड़ियों के ऊपर चड़ा तो मैंने देखा कि भाभी बाथरूम में जाकर अपनी साड़ी उतार रही थी और फिर उन्होंने अपनी ब्रा को खोल दिया और देखते ही देखते भाभी मेरे सामने पूरी नंगी हो गई और में उसे घूर घूरकर देखता ही रहा और फिर भाभी अपनी चूत में कल की तरह फिर से उंगलियाँ करने लगी और कुछ देर बाद भाभी उंगली निकालकर अपनी चूत को धोने लगी. तो में यह सब देखकर पूरी तरह से गरम हो गया और उठकर दरवाजे के पास ही मुठ मारने लगा और अब मुझे बिल्कुल भी पता नहीं चला कि कब भाभी बाथरूम से निकलकर एकदम मेरे पास आकर खड़ी हो गई और जब मैंने देखा कि भाभी मेरे पास आ गई है तो में उसी समय झड़ गया और फिर में उन्हे देखकर बहुत डर भी गया कि अब भाभी क्या कहेगी? तो में जल्दी से अपनी पेंट को ऊपर करके सीधा खड़ा हो गया और फिर भाभी ने पूछा कि तुम यह सब यहाँ पर क्या कर रहे थे? तो में कुछ भी नहीं बोला बिल्कुल चुपचाप खड़ा रहा.

Pages: 1 2 3