राज खुलने के डर से चाची ने चुदवाया

यह बात जानकर मैंने चाची को आँख मार कर पूछा, “चाची वो रात कब आएगी?” तो चाची ने कहा, “ठीक है आज रात जब सब सो जाएं तो छत पर आ जाना.” उनकी बात सुन कर मैं बहुत खुश हुआ कि आज रात चाची को जी भर के चोदूंगा…

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम रोहित है. मेरी यह कहानी मेरी और मेरी चाची की चुदाई की है. पहली बार मैंने उन्हें किस तरह चोदा, इस कहानी में इसी बात का जिक्र है. उम्मीद है आप लोगों को पसंद आएगी.

मेरी चाची 26 साल की हैं. जब मैंने पहली बार अपनी चाची को चोदा था तब मैं 21 साल का था. हमारा एक संयुक्त परिवार है. जहां हमारे साथ मेरे सबसे छोटे चाचा और उनकी पत्नी भी रहती हैं.

मेरी छोटी चाची का नाम सरिता है. वो दिखने में काफी सुन्दर हैं. उनकी हाइट करीब 5 फुट है. उनका रंग भी गोरा है. उनकी चूचियाँ 32, कमर 26 और चूतड़ 30 के साइज के होंगे. कुल मिलाकर जो पूरी तरह काम की देवी लगती हैं.

शुरुआत में मैंने उनके बारे में कोई गलत बात नहीं सोची थी. एक बार उन्होंने एक नया मोबाइल लिया था. चूंकि, उनको उनको मोबाइल चलने उतना अच्छे से नहीं आता था इसलिए वो उसके कुछ फंक्शन्स को मुझसे सीखना चाहती थीं.

एक दिन मैं जब उनको मोबाइल में कुछ सिखा रहा था तभी उनके मोबाइल पर एक नंबर से मेसेज आ गया. जब मैंने मैसेज देखना चाहा तो उन्होंने मोबाइल को बंद कर दिया और मुझसे बोलीं कि एक सहेली का मैसेज है, पढ़ लेने दो. इस पर मैंने कहा, “ठीक है, पढ़ लीजिये.”

उसके बाद फिर मैं उनके पास से चला आया. शाम को जब घर की सारी औरतें खाना बना रही थीं तो मैंने गाना सुनने के लिए चाची से बिना पूछे ही उनका मोबाइल ले लिया.

मैं गाने सुन रहा था, तभी मेरे दिमाग में मैसेज वाली बात याद आ गई. उसके बाद मैंने सोचा कि देखूँ तो जरा कि चाची की कौन सी सहेली है और उसने उन्हें क्या मैसेज भेजा है, जिसे चाची मुझसे छिपा रही थीं.

जब मैंने मैसेज खोला तो मेरी आँखें खुली की खुली रह गईं. मैसेज में लिखा था, “अपनी चूत और चूची की फ़ोटो भेजो.” उसके नीचे चाची ने लिख कर कर रिप्लाई किया था कि कल भेज दूंगी. जब मैंने नम्बर को देखा तो पता चला कि वो तो हमारे घर के बगल में रहने वाले एक पड़ोसी का है, जिन्हें मैं चाचा जी कहता था. मैसेज देख कर मैं समझ गया कि मेरी चाची उनसे पटी हुई हैं.

अब मैंने भी चाची की नंगी फ़ोटो देखने की सोची. अगले दिन जब शाम चाची खाना बनाने में लगी थीं, तो फिर मैंने उनका मोबाइल उठा लिया और उसमें देखा तो उनकी दो नंगी तस्वीर दिखाई दीं, जो उन्होंने पड़ोसी को सेंड की थीं.

उन्हें नंगा देख कर अब मैं भी चाची को चोदना के बारे में सोचने लगा. फिर मैंने जल्दी से उन फोटो को अपने मोबाइल में सेंड कर लिया.

उसके बाद अगले दिन फिर जब चाची मेरे से कुछ पूछने आईं तो मैं मज़ाक में उनकी जांघ और कमर पर हाथ रखने लगा. इस पर उन्होंने कुछ नहीं कहा.

उन्हें सिखाने के बाद फिर मैंने चाची से कहा कि चाची, आपकी कुछ फ़ोटो मेरे पास हैं, देखेंगी?” उनको कुछ भी पता नहीं था, इसलिए उन्होंने मुझसे कहा, “कैसी फ़ोटो? दिखाओ.”

फिर जब मैंने उनको फ़ोटो दिखाई तो वो डर गयी और बोलीं, “ये फ़ोटो तुमको कहाँ से मिली?” तो मैंने उनको बताया कि मैंने आपका मैसेज पढ़ लिया था और अब ये बात मैं चाचा को बताऊंगा.

चाचा से बताने की बात सुन कर चाची डर गईं और बोली, “जो भी तुमको चाहिए बताओ, मैं दूंगी. लेकिन प्लीज अपने चाचा से कुछ मत बताना.” यह सुन कर मैंने कहा, “चाची मेरे को भी बस एक बार अपने शरीर को भोगने का मौका दे दो.”

इस पर चाची ने कहा, “देखो, अगर तुम ये वादा करो कि मेरे को भोगने के बाद तुम ये बात अपने चाचा को नहीं बताओगे तो मैं इस बारे में कुछ सोच सकती हूँ. दोस्तों, मेरे को तो बस कैसे भी उनको चोदना था तो मैंने कहा, “ठीक है, लेकिन पूरी रात आपको मेरे साथ चुदना होगा.”

इस पर उन्होंने कुछ सोच कर कहा, “ठीक है.” फिर मैंने उनसे पूछा, “तो फिर किस रात आप मेरी होंगी?” तो उन्होंने कहा कि वो रात आने से पहले मैं तुमको बता दूंगी.” इस पर मैंने कहा, “ठीक है, मुझे कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन जब तक वो रात न आए आप मेरे को अपनी चूचियाँ और चूत छूने को देंगी.”

ये कहते ही मैंने उनकी बायीं चूची को पकड़ लिया. फिर चाची ने कहा, “मेरी भी एक शर्त है कि उस रात के बाद तुम मेरे को कभी नहीं छुओगे.” उनकी इस शर्त को मैं भी मान गया. अब मुझे जब भी मौका मिलता मैं उनको पीछे से पकड़ के खूब उनकी चूची दबता था और कपड़ों के ऊपर से ही उनकी चूत में ऊँगली करता था.

Pages: 1 2