सभी को सेक्स की ज़रूरत है

हाय देसी कहानी पे आपका स्वागत है, यहा चुदाई की कहानियाँ पढ़ना मुझे बहोत अछा लगता है, मैं अरिश आज आपको अपनी एक रियल सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हूँ.

ये देसी स्टोरी तब की है जब मैने मल्टी मीडीया क्लास जोइन किया था, मेरे सेंटर मे एक मॅम थी उसका नाम था वाणी जो की शादी शुदा थी, लेकिन कोई बच्चा नही था उसका एंड काफ़ी आछे घर से थी उसका हज़्बेंड किसी बड़ी कंपनी मे जि.एम था और पूरे स्टेट को देखता था.

इसलिए महीने मे करीब 15 से 18 दिन बाहर टूर पे रहता था ये सब जान कर मैं समझ गया मेडम प्यासी रहती होगी लॅंड की और मैं भी प्यासा था चुत का मेडम जब सेंटर आती तो लड़के या मेल टीचर को छोड़ो फीमेल स्टूडेंट या स्टाफ सभी उसी की बाते करती इतनी हॉट बॉम लगती थी.

नाभि के नीचे सारी पहनती डीप नेक ब्लाउस पीठ तो लगभग खुली ही होती थी, जब जीन्स टॉप पहनती तो बूब की जगह दो बॉम लगती थी, कुल मिला कर माल लगती थी मैं तो डेली बाथरूम जाकर मूठ मार आता था, तभी कुछ पढ़ाई हो पाती थी नही तो चुत चुचि के ध्यान मे घंटा पढ़ाई होती थी, कुछ और सोचने का मौका ही नही मिलता था.

फिर एक दिन मेडम ने पूछा तुम हर रोज़ क्लास से बाथरूम क्यो जाते हो पूरा क्लास डिस्टर्ब होता है और काफ़ी टाइम भी लगाते हो तुम्हे बाथरूम मे कोई प्राब्लम है क्या, मेरे मूह से तुरंत निकल गया मेडम प्राब्लम तो आपकी वजह से है, मेडम शोक हो गयी बोली क्या, और फिर मुझे लगा मैने ग़लत बोल दिया सो मैने बोला सॉरी मेडम ग़लती से बोल दिया बात ये है की मुझे बाथरूम मे थोड़ा टाइम लगता है सॉरी.

मेडम बोली ओके कोई बात नही फिर नेक्स्ट डे मेडम ने मुझसे पूछा तुम्हारे पास लॅपटॉप है ना मैने कहा जी है, तो बोली तुमने मेरा फ्लॅट देखा है मैने बोला नही तो उसने अड्रेस बताया और बोला सेंटर मे किसी को बताना नही प्लीज़ मुझे वन वीक के लिए तुम्हारा लॅपटॉप और तुम्हारी हेल्प चाहिए कुछ काम है तुम मेरे घर पे आ जाना शाम को अगर तुम्हे कोई प्राब्लम ना हो तो.

मैने तुरंत बोला नही मेडम मैं आ जाउन्गा कोई बात नही इससे अछा मौका मुझे नही मिलेगा मेडम ने कहा मौका मीन्स, मैने बोला आपकी सेवा का मेडम जी, पापा कहते है गुरु की सेवा करनी चाहिए, मेडम बोली तो मैं आज शाम को तुम्हारा वेट करूँगी.

फिर शाम को 6 बजे मैं मेडम के फ्लॅट पे चला गया, वो सारी मे थी कयामत लग रही थी मेडम ने मुझे अंदर बुलाया और सोफे पे बैठने को बोला और कोल्ड ड्रिंक्स लेके मेरे बगल मे बैठ गयी, क्या खुशबू आ रही थी मेडम के शरीर से आ आहह मेडम ने बोला देखो मुझे कुछ प्रॉजेक्ट बनाना है.

मैने पेपर पे बना लिया है तुम्हे कंप्यूटर पे कॉपी करना है और मैं भी तुम्हारे साथ हेल्प करूँगी कुछ मॉडेल भी बनाने है और तुम्हारा मॉडेल भी अछा होता है तो तुम काम स्टार्ट करो मैं पेपर लेके आती हूँ ठीक है, तो जब मेरे तरफ से कोई जवाब नही मिला तो मेडम बोली क्या हुवा समझ गये, तो मैने बोला की क्या.

मेडम बोली स्माइल देके कहा खो गये मैं बोला एक मिनट मॅम क्या मैं आपका बाथरूम यूज़ कर सकता हूँ, तो वो बोली वाहा सामने बाथरूम है जाओ और मैं चला गया मूठ मारने जब मैं वापस आया, तो मेडम बोली हो गया काम तुम्हारा, तो मैने कहा कॉन्सा काम, तो मेडम बोली वही जो तुम रोज़ करते हो, मैं शर्मा गया मुझे पता था मेडम सब समझ गयी थी.

फिर मेडम बोली तुम्हे मैं इतनी हॉट लगती हूँ की मुझे देखने के बाद तुम्हे बाथरूम जाना पड़ता है, मैं सब जानती हूँ मैं कुछ बोलने की हालत मे नही था, फिर वो बोली ठीक है आओ मेरे साथ और वो मेरा हाथ पकड़ कर अपने बेडरूम मे ले गयी और बोली, तुम जो चाहते हो मैं तुम्हे करने दूँगी पर एक शर्त पर.

मैने कहा क्या, तो वो एक ब्लू फिल्म की सीडी ऑन कर दी और बोली इस फिल्म मे जैसे जैसे सेक्स कर रहा है वैसा ही करना होगा बोलो मंजूर है, मैने बोला ठीक है, फिर हम लोग स्टार्ट हो गये पहले किस्सिंग सीन था.

फिर ड्रेस ओपन सीन था फिर ब्रा पैंटी सकिंग सीन हुआ फिर ब्रा ओपन करके बूब्स सकिंग फिर चुत चाटी उंगली की फिर बारी आई लॅंड की क्या मस्त लॅंड चूस रही थी फिल्म से भी बाड़िया, क्योकि मैं मूठ मार कर आया था इसलिए जल्दी गिरने वाला भी नही था, फिर बोली अब डालो और वो लेट गयी मैने अपना लॅंड चुत मे घुसाने लगा, फिर जोरदार धक्का दिया मस्त टाइट चुत थी काफ़ी देर चुदाई के बाद वो घोड़ी बन गयी, फिर पीछे से डाला फिर बोली गॅंड भी मारो मैने कभी गॅंड नही मरवाई है.

Pages: 1 2