साली की चूत चुदाई की चाहत

नमस्कार मित्रो, मेरा नाम सिद्धार्थ मिश्रा (बदला हुआ) है। मैं उत्तर प्रदेश के एक छोटे से जनपद का निवासी हूँ। मैंने अन्तर्वासना पर लगभग हर कहानी पढ़ी है। अन्तर्वासना पर यह मेरा पहली बार है जिसमें मुझे आप सबकी मदद की आवश्यकता है।

वैसे तो मैं अच्छे खासे शरीर का मालिक हूँ, मेरे लन्ड का साइज 7 इंच है मोटा और मस्त। मेरी सेक्स लाइफ बहुत अच्छी चल रही है. अब तक मैंने बस तीन चूतों का रसपान किया है लेकिन उन्हें चोदा हचक के है, उनकी चीखें निकाल चुका हूं. इनमें से एक तो आज भी शादी के बाद मुझसे चुदवाती है.
लेकिन वो कहानी फिर कभी और सुनाऊंगा।

आजकल मेरे लन्ड को मेरी साली पसंद आ गयी है। आपको अपनी साली के बारे में बताता हूं: कजरारे नैन, मस्त मस्त गोल गोल चूचे … मन करता है कि निचोड़ कर पी जाऊं! साली की उठी हुई गांड!
मेरी साली शानदार हुस्न की मलिका है, चूत भी एकदम कसी हुई बिल्कुल अनछुई। जब भी चलती है तो गांड ऐसे मटकती है कि पकड़ कर वहीं चोद दूं।
वैसे तो मै चूत का इतना शौकीन हूं कि मन करता है कि चलते चलते ही चूत चोद दूं।
पर समझ नहीं आ रहा साली को कैसे पटाऊँ?

साली की चूत की ठरक इस तरह चढ़ी है मुझ पर कि मन करता है कि जहाँ मिले, वहीं पर पटक के चोद डालूं!
उसे अपना लन्ड चूसवाऊं … उसके चूचे पकड़ कर रगड़ डालू … साली की गांड मार मार के लाल कर दूं और चूत का भोसड़ा बना दूं।

वो मुझसे बात तो कर लेती है पर मेरे लन्ड को अपनी चूत का स्वाद नहीं लेने देती। कई बार उसकी कसी सलवार से उसकी चूत का साइज भी देखा है। और देख के बहुत बार मुट्ठ भी मारी है आज भी उसकी याद में मुट्ठ मारता हूँ।

तो अब मैं अपनी समस्या पर आता हूं, मैं अपनी साली को चोदना चाहता हूँ, उसकी जवानी का रसपान करना चाहता हूँ पर वो हाथ नहीं रखने देती! आज तक जानबूझ कर मैंने इस तरह उसके चूचे पर हाथ फिराया है कि उसे लगे अनजाने में हुआ है। एकदम मुलायम रुई के गोले की तरह हैं उसके चूचे!
सोच कर ही लन्ड फुदकने लगता है।

कई बार मैंने उसे अपने साथ मोटरसाइकिल पर पीछे बैठाकर उसके चुचों का आनंद लिया है।
मैं उसे चोदना चाहता हूँ.
तो आप सब मुझे कोई तरकीब बताएं जिससे वो मेरे नीचे आके मेरे लन्ड का स्वाद चख ले।

आप सब अपने जवाब मेरी ईमेल आईडी पर दे सकते हैं।
इसी इंतजार के साथ आपसे विदा लेता हूं।
धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *